Home » World » United Nation Regrets On Donald Trump Decision Of No More Funding To Unrwa Know What Is Unrwa No | अमेरिका ने UNRWA की वित्तीय सहायता रोकी, UN ने जताया खेद

United Nation Regrets On Donald Trump Decision Of No More Funding To Unrwa Know What Is Unrwa No | अमेरिका ने UNRWA की वित्तीय सहायता रोकी, UN ने जताया खेद


अमेरिका ने UNRWA की वित्तीय सहायता रोकी, UN ने जताया खेद

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने घोषणा की है कि वह संयुक्त राष्ट्र फिलिस्तीन शरणार्थी एजेंसी यूएनआरडब्ल्यूए की वित्तीय सहायता खत्म कर रहे हैं क्योंकि इसमें बहुत खामियां हैं. अमेरिका की विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीदर नोर्ट ने शुक्रवार को कहा, ‘प्रशासन ने इस मुद्दे की सावधानी पूर्वक समीक्षा की और तय किया कि अमेरिका अब यूएनआरडब्ल्यूए को अतिरिक्त योगदान नहीं देगा.’

उन्होंने कहा कि यूएनआरडब्ल्यूए से जुड़ी वित्तीय व्यवस्थाएं टिकाऊ नहीं हैं और कई साल से यह संकट में चल रही है. नोर्ट ने कहा, ‘अमेरिका इस अत्यंत खामियों वाले परिचालन के लिए आगे वित्तीय सहायता देने की प्रतिबद्धता को खत्म करता है.’

संयुक्त राष्ट्र ने फिलिस्तीन पर अमेरिका के निर्णय पर जताया खेद

संयुक्त राष्ट्र ने अमेरिका के इस फैसले पर अफसोस जताया है. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने फिलस्तीनी शरणार्थियों के लिए उनकी एजेंसी को आगे वित्तीय सहायता मुहैया नहीं कराने के अमेरिका के फैसले पर खेद जताया है. इसी के साथ उन्होंने अन्य देशों से इस वित्तीय खाई को भरने में मदद करने का आग्रह किया है. ताकि यूएनआरडब्ल्यूए इस अहम सहायता को जारी रख सकें.

महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा, ‘अमेरिका पारंपरिक तौर पर यूएनआरडब्ल्यूए में अकेला सबसे ज्यादा योगदान देता है. इतने वर्षों में उसके सहयोग की हम सराहना करते हैं.’

क्या है यूएनआरडब्लूए

अल जजीरा की खबर के मुताबिक इसकी स्थापना अस्थाई तौर पर 1948 में इजराइल के अलग देश बन जाने के बाद हुई थी. ताकी 7,00,000 से ज्यादा फिलिस्तीनी लोगों को सुविधाएं पहुंचाई जा सके जिन्हें उनके शहरों से जबरदस्ती निकाला गया था.

स्थापना के बाद से ही इसने फिलिस्तीनी शरणार्थियों की चार पीढ़ियों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराई हैं. इसमें कार्यरत 30,000 से ज्यादा कर्मचारी शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकारों के साथ मिल कर जरूरतमंदों की मदद करते हैं.

(इनपुट भाषा से)



Source link

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: