Home » India » Telangana Mp Srinivasa Reddy Company Admit About 60 Crore Black Money After Income Tax Raid Pa | तेलंगाना: सांसद श्रीनिवास रेड्डी के ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी, करोड़ों के कालेधन का खुलासा

Telangana Mp Srinivasa Reddy Company Admit About 60 Crore Black Money After Income Tax Raid Pa | तेलंगाना: सांसद श्रीनिवास रेड्डी के ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी, करोड़ों के कालेधन का खुलासा


तेलंगाना: सांसद श्रीनिवास रेड्डी के ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी, करोड़ों के कालेधन का खुलासा

आयकर विभाग के छापेमारी में तेलंगाना के सांसद पी श्रीनिवास रेड्डी की कंपनी के पास से 60 करोड़ रुपए के कालाधन का खुलासा हुआ है. सिर्फ इतान ही नहीं सांसद ने कुल 60 करोड़ की अघोषित आय की बात स्वीकार भी कर ली है. बता दें कि आयकर विभाग ने लगाातर पी श्रीनिवास रेड्डी के कई ठिकानों पर सितंबर महीने से छापेमारी कर कालेधन का खुलासा किया. इसके बाद उनसे पूछताछ भी की गई. न्यूज 18 की खबर के मुताबिक सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (टीआरएस) सांसद के ठिकानों से इतनी भारी संख्या में कालाधन मिलने के बाद लोगों के बीच उनकी काफी चर्चा हो रही है.

सांसद पी श्रीनिवास रेड्डी रियल स्टेट कंपनी चलाते हैं

दरअसल टीआरएस सांसद पी श्रीनिवास रेड्डी रियल स्टेट कंपनी चलाते हैं. उनकी कंपनी ने 60 करोड़ रुपए की अघोषित आय की बात स्वीकार कर ली है. इस साल सितंबर में आयकर विभाग द्वारा कंपनी के खिलाफ कई छापेमारी के बाद कंपनी ने यह खुलासा किया है.अधिकारियों ने बताया कि तेलंगाना राष्ट्र समिति के सांसद पी श्रीनिवास रेड्डी और उनके परिवार के सदस्य और साझीदार मेसर्स राघव कंस्ट्रक्शन्स नामक कंपनी के प्रमोटर हैं. आयकर विभाग ने कंपनी एवं उसके अधिकारियों के हैदराबाद, खमाम, गुंटूर, विजयवाड़ा, ओंगोल और कापड़ा स्थित 16 परिसरों पर 18 सितंबर को छापेमारी की थी.

7 दिसंबर 2018 को तेलंगाना में विधानसभा चुनाव हैं

छापेमारी चार दिन तक चली थी. अधिकारियों ने बताया कि रीयल स्टेट कंपनी के प्रबंध साझीदार प्रसाद रेड्डी ने अपने बयान में 60 करोड़ रुपए की अघोषित आय की बात मान ली है. हालांकि रेड्डी ने कोई भी गलत काम करने से साफ मना किया है. वहीं इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का मानना है कि 60 करोड़ रुपए सही राशि नहीं है. अभी और पैसों का पता चलना बाकी है. बता दें कि 7 दिसंबर 2018 को तेलंगाना में विधानसभा चुनाव हैं. उससे पहले इस तरह की छापेमारी किसी को भी डरा सकती है.



Source link

, , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: