Home » India » descendant of Mughal Prince Yakub Habeebuddin Tucy speaks on the matter of Ram temple

descendant of Mughal Prince Yakub Habeebuddin Tucy speaks on the matter of Ram temple


नई दिल्ली: दिल्ली के शासक बहादुरशाह जफर के वंशज होने का दावा करने वाले प्रिंस याकूब हबीबुद्दीन तुसी ने एक बार फिर से राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है. प्रिंस याकूब ने कहा कि ‘अयोध्या में राम मंदिर बनने पर मैं खुद उसकी नींव का पत्थर रखूंगा. मुझे अयोध्या में राम मंदिर बनने पर कोई आपत्ति नहीं है.’ बता दें कि प्रिंस याकूब खुद को मुगल वंश का बताते हैं. कुछ समय पहले उन्होंने रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद पर मालिकाना हक जताते हुए खुद को विवादित स्थल का मुतवल्ली बनाये जाने की मांग भी की थी.     

 

 

बाबर की वसीयत का दिया हवाला
प्रिंस याकूब ने कथित बाबर की वसीयत का हवाला देते हुए कहा कि बाबर ने हुमायुं को कहा था कि अयोध्या में सेनापति मीर बांकी ने गलत हरकत की थी. इसकी वजह से पूरे मुगल वंश पर कलंक लग गया था. उन्होंने कहा कि हुमायुं को कहा गया था कि यहां हुकूमत करनी है, तो साधु-संतों का एहतराम करो, मंदिरों की हिफाजत करो. उन्होंने कहा कि मुगलों ने कभी किसी धर्म की भावनाओं का अपमान नहीं किया. प्रिंस तुकी ने कहा कि हमारे पुरखों की गलती और इस मुद्दे पर हुई राजनीति के लिए मैंने हिंदू धर्म के सभी लोगों से माफी भी मांगी है. 

'मुगल वंशज' का वारिस बताने वाले शख्स ने बाबरी मस्जिद पर जताया मालिकाना हक
(साभार फोटो: ANI)

ओवैसी और एआईएमपीएलबी को बताया ‘जोकर’
उन्होंने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी को जोकर बताया. साथ ही मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि ओवैसी जैसे नेता और लॉ बोर्ड राम मंदिर के मुद्दे को अपनी राजनीति चमकाने के लिए इस्तेमाल करते हैं. पिछले 20 सालों में ओवैसी ने इस मुद्दे पर राजनीति करके खुद को स्थापित कर लिया. उन्होंने कहा कि हैदराबाद हाईकोर्ट ने मुझे और मेरे परिवार को वर्ष 2002 में बहादुर शाह का वंशज मान लिया था. उन्होंने कहा कि मैं मुगल वंशज होने के नाते कहता हूं कि वहां राम मंदिर बनना चाहिए और मंदिर की नींव का पत्थर मैं ही रखूंगा.  

पहले भी ठोंक चुके हैं बाबरी मस्जिद पर मालिकाना हक
आपको बता दें कि प्रिंस याकूब ने पहले भी कहा था कि चूंकि मैं मुगलों का वंशज हूं, लिहाजा मैं बाबरी मस्जिद का मालिक हूं. उन्होंने अपने दावे के समर्थन में अपनी कथित ‘डीएनए रिपोर्ट’ भी दिखाई थी. हालांकि, डीएनए रिपोर्ट किस आधार पर बनी थी, इसकी पुष्टि नहीं हो सकी. डीएनए का मिलान किसके साथ हुआ है, वह सही है या नहीं इसकी पुष्टि नहीं हो पाई थी.



Source link

, , , , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: