Home » India » BJP launches Rath Yatra to protect tradition of Ayyappa Temple | भाजपा ने शुरू की सबरीमाला संरक्षण रथ यात्रा, मकसद

BJP launches Rath Yatra to protect tradition of Ayyappa Temple | भाजपा ने शुरू की सबरीमाला संरक्षण रथ यात्रा, मकसद


  • भाजपा ने मधुर सिद्धि विनायक मंदिर से शुरू की सबरीमाला संरक्षण रथ यात्रा
  • सुप्रीम कोर्ट ने 28 सितंबर को दिया था हर उम्र की महिला को मंदिर में प्रवेश देने का आदेश
  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दो बार खुला सबरीमाला मंदिर, आदेश का हिंसक विरोध हुआ

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2018, 05:55 PM IST कसरागोड़. भाजपा ने गुरुवार को भगवान अयप्पा के मंदिर की परंपराओं की रक्षा के लिए सबरीमाला संरक्षण रथ यात्रा शुरू की। ये यात्रा 13 नवंबर को सबरीमाला के करीब इरुमेलि में खत्म होगी। इसी दिन सुप्रीम कोर्ट को सबरीमाला मंदिर में हर उम्र की महिलाओं को प्रवेश देने के फैसले पर लगाई गई रिव्यू पिटीशन पर विचार करना है। कांग्रेस ने भी आस्था की रक्षा के लिए कसरागोड़ से रथ यात्रा शुरू की।

 

सुप्रीम कोर्ट ने 28 सितंबर को मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश का आदेश दिया था। इसके बाद दो बार मंदिर खोला गया, लेकिन परंपराओं के अनुसार 12-50 वर्ष की आयु की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया गया। केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करने की बात कही थी, लेकिन हिंसक विरोध के बीच ये संभव नहीं हो पाया।

 

लोगों की भावनाओं का सम्मान होना चाहिए- भाजपा

सबरीमाला संरक्षण यात्रा की शुरुआत के मौके पर कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा- केरल की एलडीएफ सरकार को सबरीमाला मंदिर को लेकर फैले तनाव को तुरंत खत्म करना चाहिए। उन्हें ये समझना चाहिए कि ये कितना गंभीर मसला है और इस पर अपना दिमाग लगाना चाहिए। लोगों की भावनाओं का हर हाल में सम्मान होना चाहिए। मौजूदा गतिरोध के लिए केरल सरकार और विपक्षी कांग्रेस जिम्मेदार हैं।

 

सबरीमाला का राजनीतिकरण किया गया

केरल के कांग्रेस नेता के सुधाकरन ने भी कसरागोड़ से एक रैली निकाली। आने वाले दिनों में अन्य कांग्रेसी नेता अलापुझा, तिरुअनंतपुरम, थोडुपुझा और पलक्कड़ से रथ यात्राओं की शुरुआत करेंगे। ये सभी रैलियां 15 नवंबर को सबरीमाला पर खत्म होंगी। केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मुलापल्ली रामचंद्रन ने कहा- हम लोगों को बताएंगे कि किस तरह से सबरीमाला के मुद्दे का केरल सरकार और भाजपा ने राजनीतिकरण किया है।



Source link

, , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: