Home » Business » टीसीएस पर नस्लीय भेदभाव करने का आरोप, अदालत में आज होगी सुनवाई

टीसीएस पर नस्लीय भेदभाव करने का आरोप, अदालत में आज होगी सुनवाई





कैलिफोर्निया. भारतीय आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) पर अमेरिकी कर्मचारियों से नस्लीय भेदभाव करने का आरोप लगा है। इस मसले पर आज कैलिफोर्निया की अदालत में सुनवाई होगी।

  1. कोर्ट ने कंपनी से पूछा था कि उसने किसी वजह से कई अमेरिकी कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया? क्या इसकी वजह उनका दक्षिण भारतीय न होना है? कंपनी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया। कंपनी का कहना है कि अमेरिकी कर्मचारियों को उनकी खराब परफॉर्मेंस की वजह से नौकरी से निकाला गया, न कि भेदभाव की वजह से।

  2. मुंबई स्थित टीसीएस कंपनी ने अपनी अमेरिकी ईकाई में किसी भी तरह के पक्षपात से इनकार किया है। साथ ही, कहा कि वह इस मामले में किसी भी तरह की टिप्पणी नहीं करेगा। कंपनी ने उम्मीद जताई कि उनका पक्ष काफी मजबूत है और मुकदमे में जीत उनकी ही होगी।

  3. टीसीएस के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम अमेरिका समेत पूरी दुनिया को योग्य व्यक्ति देने की काबिलियत रखते हैं, जो हमारी सफलता की वजह है। कंपनी हर देश के कानून का पूरी तरह पालन करती है।’’ कंपनी का दावा है कि वे देश और नस्ल के आधार किसी भी कर्मचारी को नहीं निकालते हैं।

  4. कोर्ट में दायरशिकायत में दावा किया गया कि 2011 से अब तक कंपनी ने अमेरिका में 12.6% गैर दक्षिण भारतीय कर्मचारियों को नौकरी से निकाला दिया, जो कंपनी के दक्षिण भारतीय कर्मचारियों के एक प्रतिशत से भी कम हैं।

  5. माना जा रहा है कि कोर्ट में विदेशी लोगों को वर्किंग वीजा के तहत अमेरिका लाने को आधार बनाकर सुनवाई की जाएगी। ट्रम्प प्रशासन लगातार एच-1बी वीजा प्रक्रिया की आलोचना कर रहा है और उसमें बदलाव लाने की कोशिश में है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      TCS Faces US Jury Over Why It Fires So Many Americans



      Source link

      , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: