Home » Special » चुनावी रण में नेताओं से समझिए राजनीति संबंधों और कसमों वादों का कितना मोल है!

चुनावी रण में नेताओं से समझिए राजनीति संबंधों और कसमों वादों का कितना मोल है!



40-50 साल तक पार्टी को 'मां' कहने वाले लोग टिकट कटते ही नई 'मां' के गले लग रहे हैं. अगर एक लाइन में कहना हो, तो कह सकते है कि एक सुपरहिट हिंदी फिल्म बनाने के लिए जो कुछ चाहिए, वह सब मध्य प्रदेश के चुनावी रण में है.



Source link

, ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: