Home » Business » एस्सार स्टील के कर्जदाताओं ने आर्सेलरमित्तल का 42000 करोड़ रु का प्रस्ताव मंजूर किया

एस्सार स्टील के कर्जदाताओं ने आर्सेलरमित्तल का 42000 करोड़ रु का प्रस्ताव मंजूर किया





नई दिल्ली. एस्सार स्टील के कर्जदाताओं ने शुक्रवार को लक्ष्मी निवास मित्तल की आर्सेलरमित्तल के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया। दिवालिया प्रक्रिया से गुजर रही एस्सार स्टील के अधिग्रहण के लिए आर्सेलर ने 42,000 करोड़ रुपए का ऑफर दिया है। बाद में 8,000 करोड़ रुपए एस्सार के ऑपरेशन में लगाए जाएंगे।

  1. एस्सार स्टील के क्रेडिटर्स की कमेटी (सीओसी) ने आर्सेलर मित्तल और उसके पार्टनर निप्पन स्टील एंड सुमिटोमो मेटल कॉर्प को लेटर ऑफ इन्टेंट (एलओआई) जारी कर दिया है।

  2. एस्सार स्टील पर बैंकों का 49,394करोड़ रुपए का कर्ज है। इसकी वसूली के लिए बैंकों ने दिवालिया प्रक्रिया के तहत बोलियां मांगी थी। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन नहीं करने की वजह से न्यूमेटल आखिरी दौर में बाहर हो गई थी। वेदांता ने 41,000 करोड़ रुपए का ऑफर दिया था।

  3. इसके अलावा ऑपरेशनल बकायादारों को 5,000 करोड़ और कर्मचारियों को 18 करोड़ रुपए देने की बात कही। एस्सार के प्रमोटर रुइया परिवार के प्रस्ताव में बैंकों को 47,507 करोड़ रुपए तत्काल देने की बात कही गई।

  4. एस्सार स्टील का कर्ज उन 12 एनपीए में शामिल है जिनके खिलाफ आरबीआई ने पिछले साल बैंकों से दिवालिया प्रक्रिया शुरू करने के लिए कहा।

  5. बैंक एस्सार पर बकाया (रुपए करोड़)
    एसबीआई 13,226.5
    केनरा बैंक 3,798.1
    स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक 3,557.4
    पंजाब नेशनल बैंक 2,936.2
    डॉएचे बैंक एजी 2,829.9
  6. 2 अगस्त 2017 एनसीएलटी ने एस्सार स्टील के खिलाफ दिवालिया प्रक्रिया शुरू की
    12 फरवरी 2018 आर्सेलर मित्तल, न्यूमेटल ने बोली लगाई
    23 मार्च 2018

    आर्सेलर की कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने दोनों बोलियां ठुकराईं

    26 मार्च 2018 बोली रिजेक्ट करने के खिलाफ आर्सेलर मित्तल एनसीएलटी पहुंची
    19 अप्रैल 2018 एनसीएलटी ने कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स को शुरुआती बोलियों पर विचार करने के लिए कहा
    28 अप्रैल 2018 न्यूमेटल की बोली को आर्सेलर मित्तल ने अपीलेट ट्रिब्यूनल में चुनौती दी
    7 सितंबर 2018 अपीलेट ट्रिब्यूनल ने न्यूमेटल की दूसरी बोली को योग्य ठहराया, आर्सेलर को पहले बकाया चुकाने के लिए कहा
    10 सितंबर 2018 अपीलेट ट्रिब्यूनल के फैसले के खिलाफ दोनों कंपनियां सुप्रीम कोर्ट पहुंचीं
    4 अक्टूबर 2018 सुप्रीम कोर्ट ने दोनों कंपनियों को अपना बकाया चुकाने के बाद संशोधित प्रस्ताव देने के लिए कहा
    24 अक्टूबर 2018 बैंकों ने वेदांता, आर्सेलर मित्तल की बिड पर वोटिंग शुरू की
    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      ArcelorMittal wins bids to buyout Essar Steel creditors issue letter of Int



      Source link

      , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: