Home » Business » आम्रपाली के सीएफओ ने पहले कहा था कुछ याद नहीं, जज से सामना हुआ तो माफी मांगी

आम्रपाली के सीएफओ ने पहले कहा था कुछ याद नहीं, जज से सामना हुआ तो माफी मांगी





नई दिल्ली. आम्रपाली ग्रुप के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (सीएफओ) चंदर वाधवा ने मेमोरी लॉस की बात पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में माफी मांगी। अदालत की ओर से नियुक्त फोरेंसिक ऑडिटर ने 12 अक्टूबर को वाधवा से पूछताछ की थी। उसने कहा था कि आम्रपाली ग्रुप ज्वॉइन करने की तारीख याद नहीं। लेकिन, शुक्रवार को उसने अदालत में सभी सवालों के जवाब दिए। ऐसे में कोर्ट ने कहा कि अब लग रहा है, याददाश्त ठीक हो गई।

  1. न्यायाधीश यू यू ललित ने वाधवा की डेट ऑफ ज्वॉइनिंग से लेकर आम्रपाली के बोर्ड में उसकी भूमिका से जुड़े कई सवाल किए। कोर्ट ने वाधवा को पहले ही चेतावनी दी थी कि अदालत में रिकॉर्ड रहेगा। इसलिए, जवाब देते वक्त सावधानी रखें। गलत पाए जाने पर नतीजे भुगतने पड़ेंगे।

  2. अदालत ने वाधवा को आम्रपाली से जुड़े दस्तावेज फोरेंसिक ऑडिटर्स को देने और जांच में सहयोग करने के आदेश दिए। फोरेंसिक ऑडिटर्स की जांच में सामने आया था कि आम्रपाली समूह ने ग्राहकों की 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम डायवर्ट की। इसके लिए शेल कंपनियां भी बनाईं।

  3. सुप्रीम कोर्ट के ऑडिटर्स के मुताबिक आम्रपाली ग्रुप ने अपने ऑडिटर्स के रिश्तेदारों को फ्री में फ्लैट दिए। इसलिए, घोटाला दबा रहा। आम्रपाली ग्रुप ने 42,000 ग्राहकों को फ्लैट का पजेशन नहीं दिया। यह मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है।

  4. आम्रपाली ग्रुप के घोटाले में उसके ऑडिटर्स की मिलीभगत सामने आने पर चार्टर्ड अकाउंटेंट्स के संगठन आईसीएआई ने जांच की बात कही है। उसने शुक्रवार को आम्रपाली के ऑडिटरों को नोटिस जारी किए।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      SC says Amrapali CFO memory intact as he answers probing questions



      Source link

      , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

%d bloggers like this: